त्वचा की लोच को प्राकृतिक रूप से कैसे सुधारें: 7 विशेषज्ञ युक्तियाँ

त्वचा की लोच को प्राकृतिक रूप से कैसे सुधारें: 7 विशेषज्ञ युक्तियाँ

त्वचा का लचीलापन खोना उम्र बढ़ने की प्रक्रिया का एक स्वाभाविक हिस्सा है। यह बात आपके ध्यान में पहली बार तब आई होगी जब आपने मेकअप किया होगा या आंखें मली होंगी। आप देखते हैं कि आप अपनी पलक को थोड़ा सा बगल की ओर ले जाते हैं, और आपकी त्वचा पहले की तरह वापस नहीं उछलती है। त्वचा की लोच त्वचा की खिंचाव और अपने मूल स्वरूप में वापस लौटने की क्षमता है। त्वचा की लोच में कमी को इलास्टोसिस कहा जाता है। यह समस्या आपकी त्वचा को ढीली, झुर्रीदार या चमड़े जैसी बना देती है। सोलर इलास्टोसिस तब होता है जब तेज़ धूप के संपर्क में आने के कारण आपकी त्वचा ढीली हो जाती है। हालाँकि, अच्छी खबर यह है कि आप कुछ प्राकृतिक उपचारों के माध्यम से अपनी त्वचा की लोच में सुधार कर सकते हैं।

हेल्थ शॉट्स ने यह समझने के लिए कि प्राकृतिक रूप से त्वचा की लोच में सुधार कैसे किया जाए, डॉ. कुना रामदास, वरिष्ठ त्वचा विशेषज्ञ, कामिनेनी अस्पताल, एलबी नगर, हैदराबाद से संपर्क किया।

त्वचा की लोच में सुधार करने के 7 प्राकृतिक लेकिन प्रभावी तरीके

त्वचा की लोच में स्वाभाविक रूप से सुधार के लिए एक समग्र दृष्टिकोण अपनाना शामिल है जो एक स्वस्थ जीवन शैली, उचित त्वचा देखभाल और आहार विकल्पों को जोड़ती है। विशेषज्ञ के अनुसार, अपनी त्वचा की लोच को प्राकृतिक रूप से बढ़ाने में मदद करने के लिए कुछ सुझाव देखें।

अगर आप चाहते हैं कि आपकी त्वचा की लोच बरकरार रहे तो भी सनस्क्रीन लगाना न छोड़ें। छवि सौजन्य: एडोब स्टॉक

1. अपनी त्वचा को यूवी क्षति से बचाएं

“धूप का संपर्क उन कारकों की सूची में सबसे ऊपर है जो त्वचा की उम्र बढ़ने और क्षति का कारण बनते हैं। यूवी किरणें समय से पहले बूढ़ा होने का कारण बन सकती हैं, जिसमें महीन रेखाएं, झुर्रियां और त्वचा की लोच में कमी शामिल है। अपनी त्वचा की सुरक्षा के लिए, ब्रॉड-स्पेक्ट्रम सुरक्षा वाले सनस्क्रीन को दैनिक आदत बनाना महत्वपूर्ण है। इसका मतलब ऐसे सनस्क्रीन का उपयोग करना है जो UVA और UVB दोनों किरणों से बचाता है। केवल धूप वाले दिनों के लिए सनस्क्रीन आरक्षित न रखें; बादल वाले दिनों में भी, हानिकारक यूवी किरणें बादलों में प्रवेश कर सकती हैं, इसलिए सनस्क्रीन आवश्यक रहता है। इसके अलावा, जब आप बाहर हों तो हर दो घंटे में सनस्क्रीन दोबारा लगाना याद रखें या यदि आप तैर रहे हों या पसीना बहा रहे हों तो बार-बार सनस्क्रीन लगाना याद रखें। युवा और स्वस्थ दिखने वाली त्वचा को बनाए रखने के लिए लगातार धूप से सुरक्षा सबसे प्रभावी तरीकों में से एक है।

2. रेटिनोइड्स का प्रयोग करें

रेटिनोइड्स यौगिकों का एक वर्ग है जिसमें रेटिनॉल और ट्रेटीनोइन जैसे प्रिस्क्रिप्शन-शक्ति विकल्प शामिल हैं। वे कोलेजन उत्पादन को प्रोत्साहित करने और त्वचा के नवीनीकरण को बढ़ावा देने की अपनी क्षमता के लिए प्रसिद्ध हैं। समय के साथ, रेटिनोइड्स त्वचा की बनावट और लोच में सुधार कर सकते हैं, महीन रेखाओं और झुर्रियों की उपस्थिति को कम कर सकते हैं।

हालाँकि, सूखापन और यूवी विकिरण के प्रति बढ़ती संवेदनशीलता जैसे संभावित दुष्प्रभावों से बचने के लिए उनका सही तरीके से उपयोग करना महत्वपूर्ण है। हमेशा उपयोग के निर्देशों का पालन करें, यदि आप रेटिनोइड्स के लिए नए हैं तो कम सांद्रता से शुरू करें, और रेटिनोइड्स का उपयोग करते समय सावधानी से सनस्क्रीन का उपयोग करें, क्योंकि वे आपकी त्वचा को यूवी क्षति के प्रति अधिक संवेदनशील बना सकते हैं।

3. स्वस्थ आहार बनाए रखें

आपका आहार त्वचा के स्वास्थ्य में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। आवश्यक पोषक तत्वों, विटामिन और एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर एक संतुलित आहार कोलेजन उत्पादन और समग्र त्वचा जीवन शक्ति के लिए महत्वपूर्ण है। अपने आहार में खूब सारे फल और सब्जियाँ शामिल करें, क्योंकि वे विटामिन और एंटीऑक्सीडेंट प्रदान करते हैं जो मुक्त कणों से लड़ते हैं, जो त्वचा को नुकसान पहुंचा सकते हैं। इसके अतिरिक्त, त्वचा की संरचना और जलयोजन का समर्थन करने के लिए दुबले प्रोटीन और स्वस्थ वसा को शामिल करें। पर्याप्त मात्रा में पानी पीकर हाइड्रेटेड रहना भी त्वचा के स्वास्थ्य के लिए आवश्यक है।

अपनी रुचि के विषय चुनें और हमें अपना फ़ीड अनुकूलित करने दें।

अभी वैयक्तिकृत करें

यह भी पढ़ें: बादाम के फायदे: स्वस्थ त्वचा, बालों और संपूर्ण स्वास्थ्य के लिए खाएं यह सुपरफूड

4. सामयिक एंटीऑक्सीडेंट

एंटीऑक्सिडेंट आपकी त्वचा को ऑक्सीडेटिव तनाव और मुक्त कणों से होने वाले नुकसान से बचाने में प्रमुख भूमिका निभाते हैं। ये हानिकारक अणु उम्र बढ़ने की प्रक्रिया को तेज कर सकते हैं और विभिन्न त्वचा संबंधी समस्याओं में योगदान कर सकते हैं। ऐसे त्वचा देखभाल उत्पादों की तलाश में रहें जिनमें विटामिन सी, विटामिन ई और हरी चाय के अर्क जैसे एंटीऑक्सीडेंट प्रचुर मात्रा में हों। ये सामग्रियां मुक्त कणों को बेअसर करने और आपकी त्वचा के समग्र स्वास्थ्य और उपस्थिति में सुधार करने में मदद कर सकती हैं। एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर सीरम या क्रीम को अपनी त्वचा की देखभाल की दिनचर्या में शामिल करना युवा त्वचा को बनाए रखने में एक महत्वपूर्ण कदम हो सकता है।

त्वचा की लोच कैसे सुधारें
कुछ चेहरे के व्यायाम आज़माएं जो आपकी त्वचा की लोच में सुधार करने के लिए आपकी त्वचा के नीचे की मांसपेशियों को लक्षित और मजबूत कर सकते हैं। छवि सौजन्य:

5. चेहरे का व्यायाम

विशेषज्ञ कहते हैं, “चेहरे के कुछ व्यायाम हैं जो आपकी त्वचा के नीचे की मांसपेशियों को लक्षित और मजबूत कर सकते हैं। हालाँकि ये व्यायाम त्वचा की मजबूती में सुधार लाने में योगदान दे सकते हैं, लेकिन मार्गदर्शन के लिए किसी पेशेवर या त्वचा विशेषज्ञ से परामर्श करना आवश्यक है। वे आपकी आवश्यकताओं के अनुरूप विशिष्ट व्यायामों की सिफारिश कर सकते हैं और यह सुनिश्चित कर सकते हैं कि आप अनजाने में अपनी त्वचा को कोई नुकसान नहीं पहुँचा रहे हैं। याद रखें कि चेहरे के व्यायाम के परिणाम ध्यान देने योग्य होने में समय और निरंतरता लग सकती है।

6. पर्याप्त नींद और तनाव प्रबंधन

गुणवत्तापूर्ण नींद की कमी और दीर्घकालिक तनाव आपकी त्वचा के स्वास्थ्य और दिखावट पर कहर बरपा सकता है। आपकी त्वचा की मरम्मत और पुनर्जीवित होने के लिए हर रात 7-9 घंटे की गुणवत्तापूर्ण नींद लेना महत्वपूर्ण है।

इसके अतिरिक्त, ध्यान, योग या गहरी साँस लेने के व्यायाम जैसी तनाव कम करने वाली तकनीकों का अभ्यास करने से तनाव के स्तर को प्रबंधित करने में मदद मिल सकती है। उच्च तनाव से त्वचा संबंधी समस्याएं जैसे ब्रेकआउट हो सकती हैं और एक्जिमा या सोरायसिस जैसी मौजूदा स्थितियां बढ़ सकती हैं। नींद और तनाव प्रबंधन को प्राथमिकता देकर, आप स्वस्थ, चमकदार त्वचा को बढ़ावा दे सकते हैं।

7. प्राकृतिक तेलों और मॉइस्चराइज़र का प्रयोग करें

“आपकी त्वचा की बनावट और कोमलता बनाए रखने के लिए उसे मॉइस्चराइज़ करना आवश्यक है। जोजोबा तेल, बादाम तेल और शिया बटर जैसे प्राकृतिक तेल मॉइस्चराइजिंग के लिए उत्कृष्ट विकल्प हैं। वे नमी को बनाए रखने में मदद कर सकते हैं, त्वचा के अवरोधक कार्य का समर्थन कर सकते हैं और त्वचा की बनावट में सुधार कर सकते हैं। मॉइस्चराइज़र चुनते समय, ऐसे उत्पादों की तलाश करें जिनमें ये प्राकृतिक तेल हों, खासकर यदि आपकी त्वचा शुष्क या संवेदनशील है। नियमित रूप से मॉइस्चराइज़र लगाने से, विशेष रूप से सफाई के बाद, आपकी त्वचा हाइड्रेटेड और चिकनी महसूस कर सकती है।

(टैग्सटूट्रांसलेट)त्वचा की लोच में सुधार कैसे करें(टी)त्वचा की लोच(टी)त्वचा की लोच में सुधार(टी)त्वचा की लोच में सुधार के लिए प्राकृतिक उपचार(टी)हेल्थशॉट्स
Read More Articles : https://newsbank24h.com/category/health-and-wellness/

Scroll to Top